जनवरी की कड़ी सर्दी में गर्मी का एहसास,जानिए रांची में क्यों बदला मौसम का मिजाज?

जनवरी की कड़ी सर्दी में गर्मी का एहसास,जानिए रांची में क्यों बदला मौसम का मिजाज?
Weather

झारखंड की राजधानी रांची (Ranchi) के मौसम (Climate) के मिजाज में पिछले 40 सालों में तेजी से बदलाव आया है. मौसम विभाग के आंकड़े बताते हैं कि 1980 से 1999 तक जनवरी के महीने में एक भी दिन न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस के ऊपर नहीं गया था, जबकि वर्ष 2000 से 2020 तक 14 बार ऐसा हुआ कि जनवरी महीने में न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस से ऊपर गया है. इस साल मात्र 7 जनवरी तक न्यूनतम तापमान 5 बार 10 डिग्री सेल्सियस से ऊपर गया.


मौसम वैज्ञानिक के मुताबिक राज्यभर में अभी न्यूनतम तापमान सामान्य से ऊपर चल रहा है. साथ में आसमान में बादल बनने, ह्यूमिडिटी के साथ अधिकतम और न्यूनतम तापमान में कम अंतर के चलते लोगों को गर्मी का भी एहसास हो रहा है. इस तरह का मौसम 11 जनवरी तक रहेगा. फिर 12 जनवरी के वेस्टर्न डिस्टरबेंस का असर कम होने से न्यूनतम तापमान में 3 से 5 डिग्री सेल्सियस की कमी आ सकती है.

वेस्टर्न डिस्टरबेंस का मौसम पर असर जानिए पूरी जानकारी।

रांची मौसम विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने कहा कि 2018 और 2019 में एक बार भी 01 जनवरी से 07 जनवरी तक तापमान 10 डिग्री से ऊपर नहीं गया था, जबकि 2020 में ऐसा 3 बार हुआ था. वर्ष 2000 तक रांची और झारखंड पर जनवरी महीने में वेस्टर्न डिस्टरबेंस का असर नहीं पड़ता था, पर क्लाइमेट में हो रहे बदलाव के चलते वर्ष 2000 के बाद से यह बदलाव दिख रहा है.