लख्खीसराय : अपनी ही नवजात बच्ची को कूड़े में दबा रही थी औरत, पुलिस ने किया गिरफ्तार

कूड़े में जिन्दा नवजात बच्ची को दफना रही थी माँ मौहल्ले वालो ने पकड़ा

लख्खीसराय : अपनी ही नवजात बच्ची को कूड़े में दबा रही थी औरत, पुलिस ने किया गिरफ्तार

कया कोई माँ भी कभी इतनी कठोर हो सकती है 

लखीसराय से एक मां की ममता को शर्मसार करने का मामला सामने आया है.अपने बच्चों को हर मां बहुत प्यार करती है लेकिन ये माँ कैसी है जो अपनी ही बेटी को मरने का प्रयास कर रही थी।. ये पूरा मामला तीन दिन की बेटी से जुड़ा है, जिसे उसकी मां ही मारने का प्रयास कर रही थी. स्थानीय लोगों की तत्परता के कारण बच्ची की जान बच गई. ये सनसनीखेज मामला कवैया थाना क्षेत्र के पंजाबी मोहल्ला का है.

इधर, मामले की सूचना मिलने के बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और घर के अंदर रखे कूड़े की ढेर से बच्ची को बाहर निकाला. फिर उसे अस्पताल में भर्ती कराया. जहां पर उसकी स्थिति पहले से ठीक है. डॉक्टरों ने उसे फिलहाल सदर अस्पताल के एसएनसीयू में रखा है. इधर, इस बात को लेकर मोहल्ले के लोग आक्रोशित हो गए और आरोपी महिला को घेर लिया और उससे मारपीट करने पर उतारू हो गए. इसके कारण स्थिति तनावपूर्ण हो गई. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने महिला को हिरासत में ले लिया.

ईट से दबा कर बच्ची को मरने की कोशिश में थी ये माँ 

मोहल्ले के लोगों ने बताया कि आरोपी महिला पंजाबी मोहल्ला की रहने वाली है. उसकी पहचान अशोक यादव की पत्नी लक्ष्मी देवी उर्फ ऋचा देवी के रुप में हुई है. तीन दिन पहले ही उसने अपने घर में ही एक बच्ची को जन्म दिया था. शनिवार की शाम से वो अपनी बच्ची को कंबल में लपेटकर ईंट से दबा रही थी. इसी क्रम में मोहल्ले की कुछ महिलाओं की उसपर नजर पर पड़ गई. इसके बाद उन लोगों ने इसकी तत्काल सूचना पुलिस को दी. पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर बच्चे को बचा लिया. आरोपी महिला लक्ष्मी देवी उर्फ ऋचा देवी का कहना है कि वह अपनी बच्ची को मारने का प्रयास नहीं कर रही थी. इधर, मामले की जांच करने आयी पुलिस ने कहा कि महिला अपनी बच्ची को कूड़ा की ढेर में छिपाकर रखी हुई थी. इसके आगे की जांच की जा रही है. अभी बच्ची को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बच्ची की हालत स्थिर है.

हालांकि आरोपी औरत का कहना है की व अपनी बच्ची को मरने की कोशिश नहीं कर रही थी। फिलहाल पुलिस इस मामले की अच्छे से तहकीकात कर रही है।