पीएम मोदी आज करेंगे असम-बंगाल का दौरा, दोनों चुनावी राज्यों को देंगे सौगात

पीएम मोदी आज करेंगे असम-बंगाल का दौरा, दोनों चुनावी राज्यों को देंगे सौगात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को एक बार फिर चुनावी राज्यों असम और बंगाल के दौरे पर निकलेंगे। अपने इस दौरे में प्रधानमंत्री दोनों राज्यों को कई अहम योजनाओं की सौगात भी देंगे.

प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा, 'प्रधानमंत्री असम के धेमाजी क्षेत्र के सिलापत्थर में एक समारोह के दौरान तेल व गैस क्षेत्र की अहम परियोजनाएं देश को समर्पित करेंगे। इसके बाद वह सोमवार को ही पश्चिम बंगाल के हुगली में विभिन्न रेल परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे।'

पीएमओ के मुताबिक, असम में मोदी बोंगाईगांव स्थित इंडियन ऑयल की इंडमैक्स (आईएनडीएमएएक्स) इकाई, डिब्रूगढ़ के मधुबन स्थित ऑयल इंडिया लिमिटेड के सहायक टैंक फार्म और तिनसुकिया के हेबेडा गांव के गैस कंप्रेसर स्टेशन का उद्घाटन करेंगे। साथ ही धेमाजी इंजीनियरिंग कॉलेज का उद्घाटन करने के अलावा प्रधानमंत्री सुआलकुची इंजीनियरिंग कॉलेज की नींव भी रखेंगे।

पीएमओ के मुताबिक, इन परियोजनाओं से ऊर्जा सुरक्षा और समृद्धि के क्षेत्र में एक नए युग की शुरुआत होगी और स्थानीय युवकों के लिए रोजगार की राह खुलेगी। पीएमओ ने यह भी कहा कि ये परियोजनाएं प्रधानमंत्री मोदी के पूर्वी भारत के सामाजिक-आर्थिक विकास से जुड़े ‘पूर्वोदय’ दृष्टिकोण का हिस्सा हैं।

पीएमओ ने बताया कि बंगाल में पीएम नोपाड़ा से दक्षिणेश्वर तक बनाए गए मेट्रो रेल एक्स्टेंशन पर पहली ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे। करीब 4.1 किलोमीटर लंबा यह एक्सटेंशन 464 करोड़ रुपये की लागत से पूरी तरह केंद्रीय अनुदान से बनाया गया है, जो कालीघाट और दक्षिणेश्वर के दो विश्वप्रसिद्ध काली मंदिरों को आपस में जोड़ रहा है। इसके चलने से लाखों पर्यटकों व भक्तों के लिए दोनों मंदिरों का दर्शन करना आसान हो जाएगा।

इसके अलावा प्रधानमंत्री दक्षिण पूर्व रेलवे के 132 किलोमीटर लंबी खड़गपुर-आदित्यपुर तीसरी लाइन परियोजना के तहत कलाईकुंडा और झाड़ग्राम के बीच 30 किलोमीटर लंबे खंड का उद्घाटन करेंगे। इस खंड के चार स्टेशनों को दोबारा विकसित किया गया है।

साथ ही प्रधानमंत्री पूर्वी रेलवे में अजीमगंज और खारगराघाट रोड के बीच दोहरी की गई रेल लाइन भी राष्ट्र को समर्पित करेंगे। मोदी डानकुनी और बारुईपाड़ा के बीच चौथी लाइन और रसूलपुर और मागरा के बीच तीसरी रेल लाइन सेवा का भी लोकार्पण करेंगे।

एक महीने के अंदर तीसरी बार दौरा-
असम और पश्चिमी बंगाल में अप्रैल-मई के दौरान विधानसभा चुनाव प्रस्तावित हैं। असम में सत्ताधारी भाजपा अपने कब्जे को बरकरार रखना चाहती है, जबकि पश्चिम बंगाल में उसका लक्ष्य ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली टीएमसी सरकार की जगह पहली बार इस राज्य की सत्ता हथियाना है।

इसी कारण सभी वरिष्ठ भाजपा नेताओं ने अपना पूरा ध्यान इन राज्यों पर केंद्रित कर दिया है। इसी के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी यह इन दोनों राज्यों में पिछले एक महीने के दौरान तीसरा दौरा होने जा रहा है।