साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स के केवल 3 सब्जेक्ट के एग्जाम हो सकते हैं, कोरोना की वजह से एग्जाम नहीं दे पाए तो मिलेगा मौका

साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स के केवल 3 सब्जेक्ट के एग्जाम हो सकते हैं, कोरोना की वजह से एग्जाम नहीं दे पाए तो मिलेगा मौका

कोरोना महामारी की दूसरी लहर के बीच सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन  12वीं क्लास में मुख्य विषयों यानी मेजर सब्जेक्ट्स का एग्जाम लेने पर विचार कर रहा है। 12वीं में साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स के केवल 3 मुख्य विषयों की ही परीक्षा लेने पर विचार किया जा रहा है। बाकी सब्जेक्ट्स में मुख्य विषयों पर मिले नंबर्स के आधार पर मार्किंग का फॉर्मूला भी बन सकता है।

यह भी कहा गया है कि जो स्टूडेंट कोरोना की वजह से एग्जाम नहीं दे पाते हैं, उन्हें एक और मौका मिलना चाहिए। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में रविवार को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ मंत्रियों और अधिकारियों की एक हाईलेवल मीटिंग में 12 के एग्जाम और प्रोफेशनल्स एजुकेशन के एंट्रेंस टेस्ट पर फैसला हो सकता है। मीटिंग में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और प्रकाश जावडेकर भी शामिल होंगे।

सरकार ने कोरोना की दूसरी लहर के चलते 12वीं बोर्ड का एग्जाम टाल दिया था।

12वीं के लिए 174 सब्जेक्ट्स, इनमें से 20 मेजर
CBSE 12वीं क्लास में 174 सब्जेक्ट्स की पढ़ाई कराता है। इनमें से महज 20 को ही मेजर सब्जेक्ट माना जाता है। इनमें फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथमेटिक्स, बायोलॉजी, हिस्ट्री, पॉलिटिकल साइंस, बिजनेस स्टडीज, अकाउंटेंसी, जियोग्राफी, इकोनॉमिक्स और इंग्लिश शामिल हैं। CBSE का कोई भी स्टूडेंट कम से कम 5 और अधिकतम 6 सब्जेक्ट लेता है, आमतौर पर इनमें 4 मेजर सब्जेक्ट होते हैं।