Coronil पर बाबा रामदेव के दावे से IMA हुआ हैरान

कॉल अनिल पर बाबा रामदेव के दावे से आई एम ए हुआ हैरान स्वास्थ्य मंत्री से की स्पष्टीकरण की मांग

Coronil पर बाबा रामदेव के दावे से IMA हुआ हैरान

पतंजलि की कोरोनावायरस को विश्व स्वास्थ्य संगठन से प्रमाणपत्र मिलने की बात को इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने सोमवार को सरासर झूठ करार देते हुए आश्चर्य प्रकट किया और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से इस बात की स्पष्टीकरण कराने की मांग की है पतंजलि का दावा है कि कोरोनावायरस 19 को ठीक कर सकती है और साक्ष्यों के आधार पर इसकी पुष्टि की गई है।

डब्ल्यूएचओ ने स्पष्ट किया है कि उसने किसी भी पारंपरिक औषधी को कोविड-19 के उपचार के तौर पर प्रमाणित नहीं किया है योग गुरु रामदेव ने पतंजलि आयुर्वेद 19 फरवरी को कहा था कि डब्ल्यूएचओ के प्रमाण योजना के तहत कोरोनावायरस को आयुष मंत्रालय की ओर से कोविड-19 के उपचार में सहायक औषधि के तौर पर प्रमाणीकरण मिल गया है।

हालांकि पतंजलि के प्रबंध निर्देशक आचार्य बालकृष्ण बाद में ट्वीट कर सफाई दी थी और कहा था कि हम यह साफ कर देना चाहते हैं कि करौली के लिए हमारा डब्ल्यूएचओ अनुपालन वाले सी ओ पी पी प्रमाण पत्र भारत सरकार की ओर से जारी किया गया है स्पष्ट है कि डब्ल्यूएचओ किसी दवा को मंजूरी नहीं देता तब विश्व में सभी के लिए बेहतर भविष्य बनाने के वास्ते काम कर रहा है।गौरतलब है कि हरिद्वार स्थित पतंजलि आयुर्वेद में कोविड-19 के उपचार के लिए कॉलोनी का प्रभाव कारी होने में संबंध में शोध पत्र जारी करने का दावा भी किया था।