UP: GANGA GHAT पर पड़े शवो से हटाई जा रही भगवा चुनरी

यूपी: गंगा घाट पर पड़े शवो से हटाई जा रही भगवा चुनरी, लालू ने BJP सरकार पर बोला हमला

कोरोना के बेकाबू हो चुके संक्रमण की वजह से प्रतिदिन हजारों लोगों की मौत इस महामारी की वजह से हो रही है। मौतों की संख्या काफी होने की वजह से लोगों को अपने स्वजनों के अंतिम संस्कार करने में भी काफी दिक्कतें आ रही है। इस वजह से उत्तरप्रदेश के प्रयागराज में कई लोगों ने कोरोना संक्रमितों की लाशों को गंगा किनारे रेत में ही दफन कर दिया। शवों को रेत में गाड़े जाने की वजह से उत्तरप्रदेश सरकार की आलोचना होने पर प्रशासनिक अधिकारियों ने दफ़न शवों के ऊपर डाली गई लाल पीली चुनरी को हटाना शुरू कर दिया है। इसी को लेकर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने उत्तरप्रदेश सरकार पर निशाना साधा है।

मंगलवार को राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने ट्विटर पर एक अख़बार की कटिंग शेयर की। जिसमें यह लिखा गया है कि प्रयागराज राज में गंगा घाटों पर दफ़न शवों के ऊपर डाली गई लाल पीली चुनरी हटाई जा रही है। इसी को लेकर राजद सुप्रीमो ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि एक बात तो स्पष्ट है, इनका बुद्धि भ्रष्ट है, धर्म का दिखावा महज़ एक ढोंग है। कहा यह जा रहा है कि कैमरे की नजरों और आलोचनाओं से बचने के लिए चुनरी हटाई जा रही ताकि इस बात की पहचान ना हो पाए कि यहां शव दफ़न किए गए हैं।

बता दें कि बीते दिनों प्रयागराज के घाटों के कई हृदयविदारक फोटो और वीडियो वायरल हुए थे, जिसमें चारों तरफ सिर्फ रेत में दफन की गई लाशें ही दिखाई दे रही थी। मृतकों के परिजनों ने लाश के ऊपर पहचान के लिए चुनरी डाल दी थी और लकड़ी लगा दी थी। प्रयागराज के घाटों की ऐसी हृदयविदारक तस्वीर राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय मीडिया में भी प्रकाशित हुई थी और योगी सरकार की चौतरफा आलोचना हुई थी।

इन तस्वीरों के सामने आने के बाद सरकार पर कोरोना से हुई मौतों के आंकडें में छेड़छाड़ का आरोप भी लगा था। आलोचनाओं की वजह से प्रशासन अब शवों का दाह संस्कार करने की बजाय लाशों के ऊपर से लाल पीली चुनरी और लकड़ी हटा रही है। साथ ही घाटों पर मौजूद प्रशासनिक अधिकारी लोगों को गंगा किनारे रेत में शवों को गाड़ने से मना कर रहे हैं। ज्ञात हो कि रेत में दफ़न किए गए शवों के अलावा कई मृतकों को गंगा में भी बहा दिया गया था। बिहार और यूपी के कई गंगा घाटों पर बड़ी संख्या में लाशें तैरती हुई दिखाई दे रही थी।

केंद्र सरकार द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में करीब 1,96,427 नए मामले सामने आए। साथ ही करीब 3511 लोगों की मौत इस महामारी की वजह से हो गई। वहीं इस अवधि में 326850 लोग ठीक भी हुए। पिछले 24 घंटे के आंकड़े सामने आने के बाद देश में अभी भी करीब 25 लाख मामले उपचाराधीन हैं। अभी तक कुल 3,07,231 लोगों की मौत कोरोना की वजह से हो चुकी है।