राजधानी रांची के अनगड़ा में भीड़ ने चोर के संदेह में एक को पीट पीट कर मार डाला

राजधानी रांची के अनगड़ा में भीड़ ने चोर के संदेह में एक को पीट पीट कर मार डाला
Mob Lynching

रांची महज 7 दिनों के भीतर झारखंड की राजधानी रांची में मॉब लिंचिंग की दूसरी बड़ी घटना सामने आई है। इस बार मॉब लिंचिंग की घटना को अनगड़ा थाना क्षेत्र के सिरका में अंजाम दिया गया है। बताया जाता है कि शनिवार की रात ग्रामीणों की भीड़ ने यहाँ एक युवक को चोर बता पीट-पीटकर उसकी जान ले ली। मृतक की पहचान अनगड़ा थाना क्षेत्र के ही महेशपुर निवासी 26 वर्षीय मुबारक खान के रूप में की गई है।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि मॉब लिंचिंग का शिकार मृतक मुबारक पेशे से एक ड्राइवर था। वो ब्रेड सप्लाई की गाड़ी चलाया करता था। शनिवार की रात सिरका पहुंचे मुबारक पर वहाँ के ग्रामीणों ने चोरी का आरोप लगा उसकी पिटाई कर दी। जिससे उसकी जान चली गई। ग्रामीणों की माने तो मुबारक बाइक का टायर और बैटरी चोरी कर अपने दो अन्य साथियों के साथ भाग रहा था।

मुबारक खान की भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या की सूचना रविवार की सुबह करीब 3 बजे परिजनों को दी गई। बताया जा रहा है कि युवक की पीट-पीटकर हत्या करने के बाद सभी आरोपी फरार हो गए थे। इसकी सूचना मिलने के बाद पुलिस वहां पहुंची और शव को कब्जे में लेकर थाने लाया गया। मृतक के भाई तबारक खान का आरोप है कि रात के 1 बजे ग्राम सिरका में एक बिजली के खंभे में बांधकर नामजद आरोपितों व अज्ञात लोगों के द्वारा मिलकर लाठी, डंडा और घातक हथियार से मारकर उसके भाई की हत्या की गई है।

मृत मुबारक के बड़े भाई तबारक खान ने थाना में मॉब लिंचिंग का आरोप लगा साहेब राम महतो उर्फ गुल्लू, दुर्गा महतो, राजू मुंडा, दुर्गा मुंडा, लक्ष्मण मुंडा, बलराम महतो, कारूलाल महतो, सखीचंद महतो, कामलाल महतो उर्फ बच्चा, पोखर महतो, जलेश्वर महतो, दिलीप महतो, राजू महतो, चुन्नू लाल ठाकुर, जितेंद्र ठाकुर, संजय महतो, दशरथ महतो, राजेंद्र महतो, झब्बू लाल महतो, प्रणव महतो, रघुनाथ मुंडा सहित 15 से 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

बताते चलें कि 8 मार्च को भी रांची स्थित काेतवाली थाना क्षेत्र के भुतहा तालाब नउवा टाेली के युवक सचिन कुमार वर्मा उर्फ गाेलू वर्मा पर पिकअप वैन चाेरी का आराेप लगा भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला था। जिसकी गूंज विधानसभा में भी सुनाई दी थी।