नरसंहार से थर्राया मधुबनी

नरसंहार मधुबनी

नरसंहार से थर्राया मधुबनी
नरसंहार से थर्राया मधुबनी

पोखर में मछली पकड़ने के बर्चस्व की लड़ाई को लेकर होली के दिन करीब 35 लोगों ने बिहार के मधुबनी के बेनीपट्टी थाना इलाके के मोहम्मदपुर गांव में 29 मार्च को गोलीबारी कर दी , इस गोली बारी में 4 लोगों की मौत हो गई थी जबकि दो लोग बुरी तरह घायल हो गए थे. इनमें से एक शख्‍स ने बाद में अस्‍पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया..
तारीख 29 मार्च 2021 लोग होली का पर्व मना रहे थे और वहीं पर मधुबनी के बेनिपट्टी थाना क्षेत्र के मोहम्मदपुर गांव में नरसंहार जैसे घटना का अंजाम दे दिया   जाता है | एक ही परिवार के 5 लोगो का बेरहमी से हत्या कर दि जाती हैं | 
दरअसल सारा गांव होली के उल्लास में था. इस खौफनाक मंजर से बिल्कुल अनजान, अचानक एक बजे दोपहर को गांव गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा उठा और होली का उल्लास मातम में बदल गया. इस घटना में तीन सहोदर भाई समेत पांच लोगों की जान चली गई. मरने वाले में से एक बीएसएफ में एएसआई राणा प्रताप सिंह भी थे जो होली की छुट्टी में अपने गांव आए थे. यह मामला पोखर में मछली पकड़ने के बर्चस्व की लड़ाई को लेकर था| पर ये छोटी सी लड़ाई नरसंघार में तब्दील हो गया | 
पुलिस आरोपित को गिरफ्तार करने के लिए तीन टीम बनकार छापेमारी कर रही है, लेकिन अबतक मुख्य आरोपित की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। आईटी सेल के द्वारा मोबाइल टावर लोकेशन को खंगाला जा रहा है। तकनीकी सेल की मदद से आरोपितों के ठिकाने पर छापेमारी तो हो रही है, लेकिन पुलिस को कामयाबी नहीं मिल पा रही है और अब मामला राजनीतिक तूल पकड़ने लगा है |