पश्चिम बंगाल में ममता दीदी की जीत से गदगद हुआ लालू परिवार

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में तृणमूल कांग्रेस ने बड़ी जीत हासिल की है। रुझानों के बाद से ही ममता बनर्जी की जीत को लेकर बधाइयों का जो सिलसिला शुरू हुआ, जो अब तक जारी है।
बंगाल के चुनावी रण (West Bengal Election Results 2021) में एक बार फिर से ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) का जादू सिर चढ़कर बोला। रूझानों/नतीजों को देखें तो सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस लगातार तीसरी बार सरकार बनाएगी। ममता की जीत से लालू परिवार काफी खुश नजर आ रहा है।

बिहार के नेता प्रतिपक्ष और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने ममता बनर्जी और टीएमसी कार्यकर्ताओं का बधाई दी। तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा है कि 'पश्चिम बंगाल की ''ममतामयी'' जनता को कोटि-कोटि बधाई और हार्दिक साधुवाद। आज जब पूरा देश कठिन परिस्थितियों से जूझ रहा है। पश्चिम बंगाल ने एक बार फिर अपनी ममता और भरोसा अपनी दीदी में ही देखा है। यह जनता के स्नेह और विश्वास की जीत है। ममता जी के दृढ़ और कुशल नेतृत्व की जीत है।'

ममता बनर्जी की जीत से लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव भी काफी उत्साहित दिखे। उन्होंने एक के बाद एक दो ट्वीट किए। दूसरी ट्वीट में उन्होंने बड़ा पोस्टर बनाकर उसमें ममता बनर्जी के साथ अपनी तस्वीर भी लगवाई। उन्होंने लिखा कि 'ममतामयी पश्चिम बंगाल को अथाह बधाई और बहुत-बहुत धन्यवाद। पश्चिम बंगाल की आम जनमानस के साथ-साथ ममता जी की कुशल नेतृत्व की जीत है।'

ममता को बधाई सिर्फ तेजस्वी और तेजप्रताप से ही नहीं मिली बल्कि पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव ने भी बधाई दी। हाल ही में जेल से छूटे लालू यादव ने ममता बनर्जी और उनकी पार्टी को बधाई देते हुए लिखा कि 'सभी विपक्षियों के खिलाफ इस ऐतिहासिक जीत के लिए ममता बनर्जी को हार्दिक बधाई। मैं आपको अच्छे स्वास्थ्य की शुभकामनाएं देता हूं। मैं बंगाल के लोगों को भी धन्यवाद देना चाहता हूं और बधाई देना चाहता हूं। जिन्होंने ईमानदारी से दीदी को वोट दिया और भाजपा के तीखा और विभाजनकारी प्रोपगेंडा में नहीं पड़े।'
पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी अपनी कुर्सी बचाने में कामयाब रहीं। ताजा अपडेट के मुताबिक 215 सीटें ममता की झोली में आती दिख रही है। जबकि बीजेपी के खाते में अब तक 74 सीटें आई है। सबसे बुरा हाल लेफ्ट और कांग्रेस गठबंधन का है।
बिहार में ममता की जीत के बाद बिहार में लालू परिवार गदगदा गया है।