Population control act: नितीश कुमार का बड़ा बयान, कहा जनसंख्या नियंत्रण करने के लिए कानून की नहीं महिलाओं को शिक्षित करने की आवश्यकता है

Bihar के मुख्यामंत्री नितीश कुमार का मानना है की जनसंख्या पर कानून बनाने से ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा उल्टा हमारी हालत china जैसी हो जाएगी

Population control act: नितीश कुमार का बड़ा बयान, कहा जनसंख्या नियंत्रण करने के लिए कानून की नहीं महिलाओं को शिक्षित करने की आवश्यकता है

Act बनाने से नहीं चलेगा काम महिलाओं को शिक्षित करना है जरूरी 

देश की बेतहाशा बढ़ती आबादी पर अंकुश लगाने के लिए कानून (Population Control Act) बनाए जाने की खबरों की बीच NDA की सहयोगी पार्टी जेडीयू ने अपनी अलग राय सामने रखी है. जेडीयू नेता और बिहार के सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने कहा है कि जनसंख्या नियंत्रण के लिए कानून बनाया जाना जरूरी नहीं है। अगर कुछ जरूरी है तो वो है सिक्षा, महिलाओं को सबसे पहले शिक्षित करना अति आवश्यक है तभी जनसंख्या कण्ट्रोल हो पायेगा।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, 'कोई राज्य कुछ करना चाहे, तो करे, इस पर मुझे कुछ नहीं कहना. मेरा मानना है कि अगर घर की महिला पढ़ी-लिखी होगी तो जनसंख्या खुद नियंत्रित हो जाएगी.'

चीन को भी मिला था बड़ा फेलियर 

चीन का उदाहरण देते हुए नीतीश (Nitish Kumar) ने कहा, 'पहले एक, फिर दो बच्चों की बात.अब वहां क्या हो रहा है, ये सब जानते हैं. मेरा साफ मानना है कि महिलाएं अगर पढ़-लिख जाएंगी तो अपने आप नियंत्रण हो जाएगा. मुझे लगता है कि 2040 तक बिहार की आबादी कंट्रोल में आ जाएगी.'

सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण के लिए सिर्फ कानून (Population Control Act) बनाने से कुछ नहीं होगा. उसके लिए लोगों का पढ़ना लिखना भी जरूरी है. अगर देश की महिलाएं पढ़ी लिखी होंगी तो प्रजनन दर में भी कमी आएगी. नीतीश ने कहा कि यह दावा नहीं किया जा सकता है कि हर परिवार में प्रजनन दर घटेगी लेकिन यह तय है कि इसमें कमी जरूर आएगी।