पुलिसवालों को चोरों का खौफ, जंजीर से बांधकर रख रहे अपने वाहन

पुलिसवालों को चोरों का खौफ, जंजीर से बांधकर रख रहे अपने वाहन

अमूमन पुलिस की वर्दी से चोर और अपराधी खौफ खाते हैं। अगर सामने कोई पुलिस वाला नजर आए जाए तो रास्ता बदल लेते हैं। लेकिन झारखंड के हजारीबाग में कहानी थोड़ी दूसरी है। यहां वाहन चोरों का खौफ इस कदर बढ़ गया है कि पुलिस वाले ही इनके सामने बेबस और लाचार नजर आ रहे हैं। पुलिस लाइन से दो इंस्पेक्टर की स्काॅर्पियो चोरी होने के बाद यहां के हालत यही बयां कर रहे हैं।

सबसे सुरक्षित ठिकानों में से एक पुलिस लाइन में अब पुलिस पदाधिकारी अपने वाहनों को लोहे की जंजीर से बांध कर रख रहे हैं। आफिसर क्वार्टर के अपार्टमेंट के बेसमेंट में खड़ी गाड़ि‍यों के पहिए लोहे की जंजीर से बांध कर लॉक कर रखे गए हैं। जंजीर को अपार्टमेंट के पीलर से बांधकर वाहन को पुलिस पदाधिकारी सुरक्षित रखने का प्रयास कर रहे हैं।

यह आलम तब है जबकि पुलिस लाइन में 100 से अधिक दारोगा, जमादार और इंस्पेक्टर रहते हैं। पुलिस अधिकारियों के रहने के लिए अलग-अलग दो अपार्टमेंट बनाए गए हैं। इसके आसपास काफी संख्या में जवान रहते हैं.

अबतक चोरों तक नहीं पहुंच पाई पुलिस

22 फरवरी की रात इंस्पेक्टर सुदामा दास और मंजीत सिंह की स्काॅर्पियो को चोर पुलिस लाइन से ही उड़ाकर ले गए थे। अल्टो कार से पहुंचे चोर कितने बेखौफ थे कि पहले तो पुलिस लाइन पहुंचे और वहां सीसीटीवी की परवाह तक नहीं की। उधर, घटना के दूसरे दिन भी पुलिस चोरों तक नहीं पहुंच पाई है।

काफी हाइटेक तरीके से चोरों ने घटना को अंजाम दिया था। मालूम हो कि हाल के दिनों में हजारीबाग जिले में लगातार वाहन चोरी की घटनाएं हो रही हैं। 22 फरवरी की रात दो स्काॅर्पियो के अलावा एक बोलेरो की चोरी भी कटकमसांडी से हुई थी। वहीं जिले में एक माह के दौरान करीब 10 वाहनों की चोरी हो चुकी है।