वैक्सीन की कमी दूर होते ही गर्भवतियों को लगेगा टीका

वैक्सीन की कमी दूर होते ही गर्भवतियों को लगेगा टीका

जल्द ही गर्भवतियों को भी कोरोना टीका लगने लगेगा, मीडिया को मिली  जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय तकनीकी सलाह समूह की दो बार हुई बैठक में इस पर सहमति बन गई है। 

हालांकि अभी अंतिम निर्णय नहीं हुआ है लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि गर्भवतियों को अनुमति देने में कोई परेशानी नहीं है। अभी तक के परिणाम संतोषजनक हैं। हालांकि यह अनुमति कब देनी है? इसका फैसला स्वास्थ्य मंत्रालय करेगा। 
मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अभी टीकाकरण केंद्रों पर काफी भीड़ देखने को मिल रही है। कई मामले ऐसे भी सामने आए हैं जो वैक्सीन लेने केंद्र पर पहुंचे लेकिन भीड़ की वजह से वह किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आ गए। 

हालांकि ऐसे मामले बेहद कम और बिना लक्षण वाले अधिक हैं लेकिन गर्भवती महिलाओं को लेकर किसी भी प्रकार का खतरा नहीं उठाया जा सकता है। एक बार वैक्सीन की उपलब्धता आसान होने और केंद्र पर भीड़ कम होने के साथ यह संभव हो सकेगा । उन्होंने कहा कि अगले कुछ ही सप्ताह में गर्भवती महिलाएं भी कोरोना का वैक्सीन ले पाएंगी। 

इसे लेकर नीति आयोग के सदस्य और टास्क फोर्स के अध्यक्ष डॉ . वीके पॉल का कहना है कि डॉक्टर और वैज्ञानिक समुदाय द्वारा वैक्सीन परीक्षणों से उपलब्ध आंकड़ों के आधार पर अब तक गर्भवतियों के टीकाकरण की सिफारिश करने का निर्णय नहीं लिया। 

हालांकि उन्होंने संकेत दिए हैं कुछ दिनों में स्थिति साफ होगी। वहीं दिल्ली एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने यहां तक कहा है कि कुछ दिनों में जानकारी पूरी आने के बाद भारत में भी गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण को मंजूरी मिल सकेगी।