सिद्धू और कैप्टन के बीच तकरार जारी, कहीं पर ना जाए अगले चुनाव में भारी

सिद्धू और कैप्टन के बीच तकरार जारी, कहीं पर ना जाए अगले चुनाव में भारी

पंजाब के दो दिग्गजों के बीच तकरार लगातार जारी है. इसका कारण वर्चस्व की लड़ाई को बताया जा रहा है. लड़ाई अब एक ऐसा रूप ले चुकी है कि इसे मतभेद ना कहकर मनभेद कहे तो ज्यादा ठीक होगा. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के बीच चल रही अनबन कहीं अगले साल होने वाले पंजाब के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की हार का कारण न बन जाए. इस बात की चिंता पार्टी के बड़े नेताओं को भी सता रही है. इसके लिए सोनिया गांधी ने 3 सदस्यीय कमेटी भी बनाई, ताकि सुलह का रास्ता निकल सके. इस कमेटी में हरीश रावत, मलिकार्जुन खड़गे, और जयप्रकाश अग्रवाल शामिल हैं. कमेटी के सदस्य पंजाब के विधायकों के साथ बैठक करेंगे और उनसे फीडबैक लेंगे.

बता दें अगले वर्ष पंजाब में विधानसभा चुनाव होने हैं और दो नेताओं के बीच चल रहे इस अनबन में पंजाब कांग्रेस को अच्छा नुकसान झेलना पड़ सकता है. दोनों की लोकप्रियता और पंजाब कि राजनीति में में उनकी पकड़ खासी मजबूत है. इसलिए कांग्रेस के लिए ऊहापोह की स्थिति खड़ी हो गई है. कांग्रेस को जल्द ही पार्टी के अंदर चल रहे कलह को ठीक करने की आवश्यकता है.