मोदी सरकार पर राहुल गाँधी का तंज कहा नए स्वास्थ्य मंत्री के आने से अब वैक्सीन की कमी नहीं होंगी ना??

मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में बड़े फेरबदल में स्वास्थ्य मंत्री को भी बदला इसका मतलब है अच्छा नहीं रहा था पिछले स्वास्थ्य मंत्री का परफॉर्मेंस

मोदी सरकार पर राहुल गाँधी का तंज कहा नए स्वास्थ्य मंत्री के आने से अब वैक्सीन की कमी नहीं होंगी ना??

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने मोदी सरकार को लेकर अपने आक्रामक तेवर अपनाए हुए हैं। देश में कोरोना की स्थिति और मौजूदा हालातों पर राहुल गांधी केंद्र सरकार पर लगातार निशाना साध रहे हैं। कोरोना की वैक्सीन हो या फिर स्वास्थ्य व्यवस्था, राहुल गांधी ट्वीट के जरिए अपने सवाल उठा रहे हैं।  कुछ दिन पहले उनका बयान आया था कि आपके गाड़ी चाहे पेट्रोल और डीजल पर चलती हो लेकिन मोदी सरकार की हुकूमत तो सिर्फ टैक्स वसूली पर ही चलती है। ऐसा बयान उन्होंने पेट्रोल और डीजल और रसोई गैस के बढ़ते दामों की वजह से दिया था। वही मोदी सरकार का कहना है कि वह पेट्रोल डीजल पर टैक्स नहीं हटा सकती क्योंकि अभी देश में पैसा नहीं है। 

वहीं फिर एक बार उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन की जगह बनाए गए नए मंत्री मनसुख मंडाविया से सवाल किया है।दरअसल, मनसुख मंडाविया को बुधवार को मोदी कैबिनेट में किए गए विस्तार के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय की बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई हैं। इस बीच देश में लगातार वैक्सीन की कमी का मुद्दा उठाया जा रहा है, जिसको लेकर राहुल गांधी ने कहा कि क्या इसका मतलब वैक्सीन की और कमी नहीं है? स्वास्थ्य मंत्री को बदलने का एक और मतलब निकलता है कि पिछले स्वास्थ्य मंत्री ने दूसरी लहर में देश का ठीक से ध्यान नहीं रखा ना ही अच्छी नीतियों पर काम किया जिसकी वजह से कई हजार लोगों की मौतें हुई। 

राहुल गांधी ने ट्वीट में #Change हैशटैग का भी यूज किया।

अगर ट्वीट की गहराई में जाए तो इससे साफ होता है कि कैबिनेट फेरबदल के बाद राहुल गांधी ने तंज करते हुए एक सवाल पूछा है कि अब तो वैक्सीन की कमी नहीं होगी ना? वहीं अब इस पर नजर होगी कि नए स्वास्थ्य मंत्री कोरोना वैक्सीन की कमी के मुद्दे पर क्या प्रतिक्रिया देंगे। आपको बता दें कि राहुल गांधी पिछले कई महीनों से मोदी सरकार को उसकी कार्यशैली और वैक्सीन नीति पर घेर रहे हैं। यहां तक की वो केंद्र की टीकाकरण नीति के कटु आलोचक हैं।