झारखंड में शुरू होने वाला है संस्कृत भाषा का क्लास , जाने कब से होगा आरंभ

भारत में 3 हजार साल पहले बोलचाल की भाषा संस्कृति थी , संस्कृत को विश्व का प्रथम भाषा माना गया है

झारखंड में शुरू होने वाला है संस्कृत भाषा का क्लास , जाने कब से होगा आरंभ

संस्कृत भारत की शास्त्रीय भाषा है। इसे देव-महादेव ,ऋषि - मुनियों के समय से बोला जा रहा है । हिंदुओं की लगभग सभी धर्म ग्रंथ संस्कृत भाषा में ही लिखी गई हैं । विश्व में संस्कृत भाषा को अन्य भाषाओं की जननी माना गया है। पूरे दुनिया में संस्कृत एक मात्र ऐसी भाषा है जो एकदम सटीक और शुद्ध है। देश और दुनिया की तरक्की में भी संस्कृत भाषा का महत्व है । भारत में 3 हजार साल पहले बोलचाल की भाषा संस्कृति थी। संस्कृत को विश्व का प्रथम भाषा माना गया है क्योंकि दुनिया की सबसे पुरानी किताब (वेदा) को इसी भाषा में लिखा गया है । 

आज हमारे देश में इस भाषा की महत्वता कम हो गई है। इस बात को ध्यान में रखते हुए झारखंड में संस्कृत भाषा को सिखाने के लिए ऑनलाइन क्लास शुरू होने वाली है। यह क्लास का नाम ऑनलाइन सरल संस्कृत संभाषण वर्ग है । जो कि 12 जुलाई से शुरू होगा । यह पूरी तरह से नि:शुल्क है। यह क्लास 12 जुलाई से 21 जुलाई तक चलेगा। जिसमें कोई भी खुद को रजिस्टर करा सकता है। अभी तक कुल 1500 से अधिक लोगों ने रजिस्ट्रेशन करा लिया है । यह क्लास को तीन भागों में बांटा गया है । जिसमें पहला क्लास दोपहर 1:00 से 2:00 बजे तक होगा, दूसरा क्लास संध्या 7:00 बजे से 8:00 बजे तक होगा और तीसरा क्लास संध्या 8:00 बजे से रात 9:00 बजे तक चलेगा‌। इस क्लास को कराने के लिए राज्य के अलग-अलग जिलों से शिक्षकों ने भाग लिया है और वे इस क्लास को कराने के लिए काफी उत्सुक है।