देश में लागू हो गए टैक्स और ITR से जुड़े ये अहम बदलाव

देश में लागू हो गए टैक्स और ITR से जुड़े ये अहम बदलाव

देश में 1 अप्रैल से कई बदलाव लागू हो गए हैं। इनमें टैक्स और से जुड़े बदलाव भी शामिल हैं। ज्यादातर बदलाव/नियम वे हैं, जिनकी घोषणा बजट 2021 के दौरान हुई थी। फाइनेंस बिल 2021 संसद से पास होने के बाद बजट प्रस्ताव अमल में आ रहे हैं। टैक्स से जुड़े कुछ अहम बदलावों।

अगर कर्मचारी भविष्‍य निधि यानी EPF और वॉलंटरी प्रोविडेंट फंड (वीपीएफ) में किसी कर्मचारी की ओर से योगदान किसी एक वित्त वर्ष में 2.5 लाख रुपये से ज्यादा जमा है तो 2.5 लाख रुपये से अधिक की रकम पर मिलने वाला ब्‍याज टैक्‍स के दायरे में आएगा। हालांकि ऐसे कर्मचारी जिनके ईपीएफ अकाउंट में कंपनी की ओर से कोई कॉन्ट्रिब्‍यूशन नहीं होता है, उनके मामले में पीएफ में 5 लाख रुपये तक के डिपॉजिट से मिलने वाले ब्‍याज पर टैक्‍स छूट मिलेगी।

कर्मचारियों के ईपीएफ अकाउंट में अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन जमा करने में देरी करने वाले संस्‍थान टैक्‍स डिडक्‍शन का दावा नहीं कर सकेंगे। बजट 2021 में यह प्रस्‍ताव किया गया था। इससे संस्‍थानों/कंपनियों पर कर्मचारी के पीएफ कॉन्ट्रिब्‍यूशन को समय से जमा करने का दबाव बढ़ेगा।