गोमूत्र पीने से कभी नहीं होगा कोरोना, किडनी और लीवर भी नहीं होगी खराब

एक और बीजेपी विधायक का दावा - 'गोमूत्र पीने से कभी नहीं होगा कोरोना, किडनी और लीवर भी खराब नहीं होगा आइए जानते हैं पूरी खबर विस्तार से '। 


विवादित बयान देने के लिए चर्चित बीजेपी विधायक देवेंद्र सिंह लोधी ने अब कोरोना महामारी लेकर अजीबोगरीब दावा किया है। यूपी के बुलंदशहर से विधायक लोधी का कहना है कि गोमूत्र पीने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।  
इसको पीने से करो ना और कैंसर जैसी बीमारियां नहीं होगी। लोधी के मुताबिक हर रोज 25ml गोमूत्र का सेवन करने से सारी बीमारियां दूर भाग जाएगी । साथ ही या फेफड़े लीवर और किडनी को भी खराब होने से बचाएगा। 


देवेंद्र सिंह लोधी कोई पहले बीजेपी विधायक नहीं है जो गोमूत्र पीने से कोरोना ठीक हो जाने का दावा कर रहे हैं । इससे पहले पिछले साल उत्तराखंड के बीजेपी विधायक महेंद्र भट ने भी ऐसा दावा किया था । उन्होंने कहा था कि खाली पेट गोमूत्र का सेवन करने से कोरोनावायरस खत्म हो  जाएगा। एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान भट ने दावा किया था कि अगर नहाने के बाद दो चम्मच गोमूत्र खाली पेट लिया जाए तो शरीर के अंदर से वायरस का नाश हो जाता है। 


इससे कोरोना ही नहीं हर प्रकार के वायरस खत्म हो जाते हैं । यह कोरोना से बचने का आयुर्वेदिक इलाज है। 
इन दोनों विधायकों की तरह पिछले साल हिंदू महासभा के प्रमुख चक्रपाणि महाराज ने भी अजीबोगरीब बयान दिया था। उन्होंने दिल्ली में बाकायदा टी पार्टी की तर्ज पर गोमूत्र पार्टी का आयोजन किया था। उन्होंने कहा था कि अगर कोई गाय के गोबर का लेप शरीर पर लगाएं और गोमूत्र पिए तो कोरोना से बच सकता है । उन्होंने कोरोनावायरस के नाश के लिए एक विशेष यज्ञ कराने की बात भी की थी। 


आपको बता दे कि बुलंदशहर के बीजेपी विधायक देवेंद्र सिंह लोधी पहले भी कई विवादित बयान दे चुके हैं ।चर्चित बुलंदशहर हिंसा मामले में उन्होंने दावा किया था कि इंस्पेक्टर सुबोध सिंह जब भीड़ में घिर गए थे तो उन्होंने अपने कंधे में गोली मारने की कोशिश ,की लेकिन गलती से गोली उनके सिर में जा लगी और उनकी मौत हो गई । इससे पहले लोधी ने कहा था कि बुंदेल शहर हिंसा भड़काने में गांव वालों का कोई हाथ नहीं था । हिंसा भड़कने पर इंस्पेक्टर सुबोध ने लोगों पर गोली चला दी थी। 


अब हमारे नेता भी चिकित्सक बन गया है। मुझे नहीं लगता कि  हमे अब और  चिकित्सक की जरूरत है क्योंकि हमारे देश में अब चिकित्सा का काम नेता  ही कर रहे हैं। हम आम आदमी को क्या कहें जब हमारे नेता ही अजीबोगरीब बयान दे रहे हैं और और गलत अफवाह फैला रहे हैं।