क्या आज से बिहार में लग रहा है लॉकडाउन

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish kumar) ने कोरोना से बचाव के लिए किए जा रहे कार्यों की सोमवार को उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की। इस बैठक में उन्होंने कहा कि कोरोना के मामले दिन-प्रतिदिन बढ़ (Coronavirus Cases Bihar) रहे हैं। इसको लेकर सक्रिय रहने की जरूरत है। अनावश्यक रूप से घर से बाहर निकलने वाले लोगों पर नजर रखें, जिससे कोरोना को रोका जा सके।

बिहार में बढ़ते कोरोना संकट के बीच क्या लॉकडाउन (Bihar Lockdown Update) लग सकता है? इस पर आज फैसला हो सकता है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की आज क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप (Nitish Kumar Meet Crisis Management Group) के साथ बैठक है। माना जा रहा है कि इस बैठक में कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है। इससे पहले सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिकारियों को कोविड प्रोटोकॉल (Coronavirus Guidelines Bihar) का सख्ती से पालन कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि पुलिस और प्रशासन बेवजह घरों से बाहर निकलने वालों पर नजर रखे जिससे कोरोना फैलाव को रोका जा सके।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को कोरोना से बचाव के लिए किए जा रहे कार्यों की उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की। इस बैठक में उन्होंने कहा कि कोरोना के मामले दिन-प्रतिदिन बढ़ रहे हैं। इसको लेकर सक्रिय रहने की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने कहा, 'मैंने खुद पटना शहर में भीड़भाड़ की स्थिति, कोरोना प्रोटोकॉल का पालन, लोगों को मास्क पहनना सहित कई चीजों का जायजा लिया। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा, 'अनावश्यक रूप से घर से बाहर निकलने वाले लोगों पर नजर रखें, जिससे कोरोना को रोका जा सके। पुलिस और प्रशासन कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करवाएं।'

नीतीश कुमार ने कोरोना जांच की संख्या बढ़ाने के साथ-साथ टीकाकरण को लेकर पूरी तैयारी करने के निर्देश भी दिया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार मुफ्त टीकाकरण करा रही है। पत्रकारों को भी फ्रंटलाइन वर्कर मानते हुए उनका भी टीकाकरण किया जा रहा है? मुख्यमंत्री ने कहा कि ऑक्सिजन और दवा की उपलब्धता हर हाल में होनी चाहिए और जिलों में भी कोरोना मरीजों की इलाज की व्यवस्था रहनी चाहिए।
मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग को रोज अस्पतालों से फीडबैक लेने और जरूरी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने गांव-गांव तक कोरोना संक्रमित के प्रति लोगों सतर्क और सजग करने के लिए निरंतर अभियान चलाने पर जोर देते हुए कहा कि कोरोना के फैलाव को लेकर लोगों को सचेत करें। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आयोजित इस बैठक में उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, रेणु देवी, शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण, स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत सहित कई वरिष्ठ अधिकारी जुडे़ थे। इस बीच मंगलवार को आपदा प्रबंधन ग्रुप के साथ मुख्यमंत्री बैठक करेंगे, जिसमें कोरोना संकट पर नई गाइडलाइंस को लेकर फैसला हो सकता है।

बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण सोमवार को 82 और लोगों की मौत हो गई। इसी के साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या 2821 हो गई। सूबे में सोमवार को संक्रमण के 11407 नए मामले सामने आए। राजधानी पटना में सबसे अधिक 2028 मामले आए हैं।